Daud Nagar Fort

औरंगाबाद जिला मुख्‍यालय से ३० कि0 मी0 की दूरी पर अवस्थित दाउदनगर सोन नदी के पूर्वी किनारे पर बसा है जिसे दाउद खॉ ने १७ वी शताब्‍दी में बसाया थाा दाउद खॉ मुगल समा्रट औरंगजेब के शासन काल में बिहार गवर्नर थे ा उन्‍होने चेर राजा से पलामू जिला को जीता था, जिसके कारण वे प्रसिद हुए ा चेर विजय प्राप्‍त कर लौटने के क्रम में दाउद खॉ ने यहॉ अपना शिविर डाला अपने नाम से दाउदनगर को स्‍थापित किया औरंगजेब ने आस-पास के इलाको की जागीर इनके सुपुर्द कर दी ा

लगभग २०० वष पूर्व डॉ फ्रासिस बुकानन ने इस शहर का दौरा किया तथा इसे उन्‍नतशील नगर के रुप में देखा था ा यहॉ कपडे एवं अफीम की फैक्‍ट्रिया थीा दाउद खॉ ने यहॉ किलानुमा सराय बनाया था जिसे आज दाउद खॉ के किला के नाम से जाना जाता हैा इसमे दो विशाल प्रवेश दार थे ा १८९६ के कुछ वष पूर्व तक यह सराय अच्‍छी स्थिति में थी ा किले के दोनो दरवाजे नियमित रुप से बन्‍द हुआ करते थे ा कर्नल डॉल्‍टन ने दाउद खॉ के वंशजो के पास सुरझित उस स्‍मृति चिन्‍ह को सन १८७४ ई0 में देखा था जो पलामु किले पर दाउद खॉ की विजय स्‍मृति चिन्‍ह स्‍वरुपइस अवसर का विशाल चित्र बनाया गया था यह ३०’ x १२ के कपडे पर बना थाा

दादउनगर किला बिहार सरकार के पुरातत्‍व निदेशालय दारा संरझित धोसित किया गया है तथा इसके संरझण हेतु आवंटन भी प्राप्‍त हुआ हैा

 

Quick Link
Latest News
01.11.2012
Lorem ipsum dolor sit amet, consectetuer adipiscing elit. Curabitu